Tuesday, 7 October 2014

शिवसेना का मोदी पर निशाना, ...




मुंबई। एक तरफ प्रधानमंत्री मोदी ने साफ कहा था कि वो बालासाहब का सम्मान करते हैं इसलिए शिवसेना को लेकर कोई टिप्पणी नहीं करेंगे। तो दूसरी तरफ शिवसेना के मुखपत्र सामना में लगातार दूसरे दिन पीएम मोदी पर निशाना साधा गया है। सामना में लिखा है कि मोदी नाम की अगर इतनी ही महानता है तो फिर मोदी को गांव-गांव घूम कर प्रचार नहीं करना चाहिए बल्कि दिल्ली में ही बैठकर महाराष्ट्र की जनता को संदेश दे देना चाहिए।


मोदी से जुड़ी सभी खबरें पढ़ने के लिए क्लिक करें


भाजपा के लिए मोदी एक शीर्ष नेतृत्व हैं, ऐसे में उनका गांव-गांव घूमना उनकी शान को शोभा नहीं देता, लेकिन भारतीय जनता पार्टी के पास मोदी के अलावा दूसरा कोई सिक्का नहीं होने के कारण उसी सिक्के की खनक भाजपा वाले पूरे राज्य में सुनाते घूम रहे हैं। प्रधानमंत्री के पद की 'शान' रखी जानी चाहिए।


शिवसेना से जुड़ी सभी खबरें पढ़ने के लिए क्लिक करें


कांग्रेसी शासन में जब इस तरह के चुनाव होते थे तब प्रचार सभा के दौरान वही-वही और वही बोलनेवाले प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह पर भी टीका-टिप्पणी होती थी। मनमोहन का मजाक उड़ाने का एक भी मौका तब विरोधियों ने नहीं छोड़ा था। पार्टी की प्रचार सभाओं में प्रधानमंत्री के आने पर सुरक्षा के साथ ही अन्य व्यवस्था का भी बड़ा तामझाम करना पड़ता है। उसका बोझ भी जनता की जेब पर पड़ता है।


बीजेपी से जुड़ी सभी खबरें पढ़ने के लिए क्लिक करें


सोनिया गांधी-मनमोहन सिंह इस तरह सरकारी मशीनरी का इस्तेमाल कर रहे थे, ऐसी टिप्पणी उस समय हुई थी। भाजपा की नजर में मोदी न सिर्फ 'स्टार' बल्कि 'सुपरस्टार' प्रचारक हैं। मोदी के नाम की महानता यदि इतनी है तो वह राज्य में पच्चीस-तीस जनसभा लेने की बजाय दिल्ली में बैठकर महाराष्ट्र के मतदाताओं के लिए निवेदन जारी कर देते तो भी चल गया होता। लोग निश्चित उनकी बात सुनते, मोदी की तस्वीर के साथ-साथ पन्ने भर-भरकर विज्ञापन प्रसारित हो रहे हैं, फिर भी मोदी पच्चीस-तीस सभाएं कर रहे हैं।


कांग्रेस से जुड़ी सभी खबरें पढ़ने के लिए क्लिक करें


दूसरे अपडेट पाने के लिए IBNKhabar.com के Facebook पेज से जुड़ें। आप हमारे Twitter पेज को भी फॉलो कर सकते हैं।


IBNkhabar के मोबाइल वर्जन के लिए लॉगआन करें m.ibnkhabar.com पर!


अब IBN7 देखिए अपने आईपैड पर भी। इसके लिए IBNLive का आईपैड एप्स डाउनलोड कीजिए। बिल्कुल मुफ्त!






Categories:

0 comments:

Post a Comment