Thursday, 11 September 2014

शीला को कांग्रेस से बर्खास्त करो: ...




नई दिल्ली। दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री शीला दीक्षित द्वारा भारतीय जनता पार्टी के दिल्ली में सरकार बनाने के संबंध में दिए गए बयान के बाद कांग्रेस में भूचाल आ गई है। उनके इस्तीफे तक की मांग की जाने लगी है।


उत्तर पूर्वी दिल्ली के घौंडा विधानसभा क्षेत्र से विधायक रहे भीष्म शर्मा ने तो कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी को पत्र लिखकर शीला दीक्षित को तुरंत पार्टी से निष्कासित किए जाने की मांग तक कर डाली। उन्होंने आरोप लगाया कि शीला दीक्षित जब तक मुख्यमंत्री रही दिल्ली कांग्रेस में उठापटक कराती रहीं।


शर्मा ने यह भी आरोप लगाया कि केरल के राज्यपाल का अपना पद बचाने के लिए शीला दीक्षित ने दो बार गृहमंत्री राजनाथ सिंह से मुलाकात की थी। उन्होंने इन मुलाकातों में यह भरोसा दिलाया था कि अगर उन्हें राज्यपाल पद पर बरकरार रखा जाता है तो वह बीजेपी की दिल्ली में सरकार बनाने में मदद करेंगी।


दिल्ली विधानसभा में कांग्रेस विधायक दल के नेता हारुन युसूफ ने भी शीला दीक्षित के बयान को उनका निजी बयान बताते हुए कहा कि इससे पार्टी का कोई लेना देना नहीं है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस का शुरू से साफ रुख है कि दिल्ली में एक साफ सुथरी और चुनी हुई सरकार हो और इसके लिए दुबारा चुनाव कराना पड़े तो उनकी पार्टी इसके लिए पूरी तरह तैयार है।


युसूफ ने कहा कि दिल्ली में असंवैधानिक तरीके से गठित की गई सरकार का कांग्रेस हरसंभव विरोध करेगी। गौरतलब है कि शीला दीक्षित ने आज कहा कि अगर बीजेपी के पास पर्याप्त संख्या है तो उसे सरकार बनानी चाहिए। इस बयान के बाद कांग्रेस में तूफान खड़ा हो गया है।


दूसरे अपडेट पाने के लिए IBNKhabar.com के Facebook पेज से जुड़ें। आप हमारे Twitter पेज को भी फॉलो कर सकते हैं।


IBNkhabar के मोबाइल वर्जन के लिए लॉगआन करें m.ibnkhabar.com पर!


अब IBN7 देखिए अपने आईपैड पर भी। इसके लिए IBNLive का आईपैड एप्स डाउनलोड कीजिए। बिल्कुल मुफ्त!






Categories:

0 comments:

Post a Comment